इंतज़ार खत्म आत्मा को मुक्ति दिलाएगी पुलिस

0
19
Share

इंतज़ार खत्म आत्मा को मुक्ति दिलाएगी पुलिस केदारनाथ । केदारनाथ आपदा में अपनों को खो चूके ऐसे हज़ारो आज भी उनके आने का इंतज़ार कर रहे है लेकिन वो कभी लोट कर नहीं आएंगे शायद कुदरत को यही मंजूर था उनके वापिस आने का दर्द ऐसे हज़ारो परिवारों में आज भी देखा जा सकता है जिनके अपने केदारनाथ आपदा की यात्रा पर गए लेकिन कभी वापिस नहीं आ सके उत्तराखंड में 2013 की आपदा जून 16 या 17 को तबाही का वो मंजर लेकर आई थी जिसको याद करते हुए आज भी तस्वीरें रोंगटे खड़े कर देती है।

आपदा में कई परिवार ऐसे भी थे जिनके घरो में ताले लटके रहे लेकिन परिवार का आज तक कुछ पता नहीं इनकी खोज तब बड़ी जब कई राज्यों से अपनों को खो जाने की बाटे सामने आई लेकिन आज भी केदारनाथ धाम में कई ऐसे शव मौजूद होंगे जो अपना अंतिम संस्कार किये जाने की उम्मीद में मुक्ति का इंतज़ार कर रहे होंगे।

इंतज़ार खत्म आत्मा को मुक्ति दिलाएगी पुलिस केदारनाथ । केदारनाथ आपदा में अपनों को खो चूके ऐसे हज़ारो आज भी उनके आने का इंतज़ार कर रहे है लेकिन वो कभी लोट कर नहीं आएंगे शायद कुदरत को यही मंजूर था

उत्तराखंड में इनको खोजें के लिए 4 दिन का सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया है एसपी के नेतृत्व में टीमों द्वारा केदारनाथ-वासुकीताल, केदारनाथ-चोराबाड़ी, त्रियुगीनारायण-गरूड़चट्टी-केदारनाथ, कालीमठ-चौमासी-खाम-केदारनाथ, जंगलचट्टी व रामाबाड़ा का ऊपरी क्षेत्र केदारनाथ बेस कैंप का ऊपरी क्षेत्र समेत मंदिर के आसपास के क्षेत्र, भैरवनाथ मंदिर व आसपास का क्षेत्र, गौरीकुंड-गोऊंमुखड़ा, गौरीकुंड से मुनकटिया का ऊपरी क्षेत्र होते हुए सोनप्रयाग पर सर्च अभियान चलाते हुए नर कंकालों की खोजबीन शुरू हो गयी है।


Share