31 अक्टूबर तक वादों की सुनवाई बंद

0
7
Share

31 अक्टूबर तक वादों की सुनवाई बंद : उत्तराखंड में कोरोना सक्रमित मरीजों के बढ़ने से अब देहरादून में ऐसे वाद पर सुनवाई नहीं होगी जो बहुत जरुरी नहीं देहरादून में ऐसे मामलों पर अब 31 अक्टूबर तक फिलहाल रोक लगायी जा चुकी है कोविड-19 के दृष्टिगत उत्तराखण्ड मानवाधिकार आयोग, देहरादून में पूर्व से निर्धारित प्रतिवादों की अंतिम सुनवाई दिनांक 31 अक्टूबर, 2020 तक नहीं होगी।

31 अक्टूबर तक वादों की सुनवाई बंद

ये खबर भी पढ़े : स्क्रीन पर ग्लैमर का तड़का

अतः वादकारियों को व्यक्तिगत रूप से आयोग कार्यालय में उपस्थित होने की आवश्यकता नही है। वादकारी अपना प्रतिउत्तर डाक/ई-मेल/फैक्स द्वारा भेज सकते हैं। यह जानकारी प्रशासनिक अधिकारी, उत्तराखण्ड मानवाधिकार आयोग हरीश चन्द्र पाण्डेय द्वारा दी गई।

उत्तराखंड में कोरोना सक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार तेजी आ रही है लगातार बढ़ते मामलो को देखते हुए अब फिलहाल मामलो पर कार्यालय में नहीं आने पर 31 अक्टूबर तक बैन लगा दिया गया है ऐसे मामलो पर मेल के माद्यम से अपना पक्ष रखा जा सकता है।

ऐसे मामलों को देखते हुए पहले ही उत्तराखंड सरकार यहाँ आने वाले लोगो के लिए बॉर्डर पर बिना जांच किये जाने की बात बोल चुकी है लेकिन वो उनके लिए होगा जो सिर्फ दो या तीन दिनों के लिए यहाँ आ रहे है उत्तराखंड में आने वाले दिनों को देखते हुए राज्य सरकार भी हर तरह सी तैयार रहने के निर्देश लगातार ज़िले के अफसरों को दे रही है।


Share