प्रकाश पंत का जन्म दिवस इसलिए बना खास

Share

देहरादून। प्रदेश के वित्त मंत्री प्रकाश पंत का आज जन्म दिवस है अपने जन्म दिवस को आज प्रकाश पंत अलग तरीके से मना रहे हैं उनके जन्मदिवस पर आज एक होटल में प्रकाश पंत के मोबाइल एप्स को लॉन्च किया जाएगा उत्तराखंड में राज्य के मुख्यमंत्री अपने मोबाइल एप्स को पूर्व में लॉन्च कर चुके हैं लेकिन वित्त मंत्री प्रकाश पंत का ऑफिशल मोबाइल एप्स आज गूगल एप्स पर लॉन्च कर दिया गया उनके मोबाइल एप्स को एक प्राइवेट कंपनी द्वारा तैयार किया गया है जिसमें उनसे संबंधित कई महत्वपूर्ण जानकारियों के साथ साथ उत्तराखंड में आम जनता के लिए भी कई ऐसी सामग्री प्रस्तुत की गई है जिसका उपयोग डिजिटल युग में आम जनता कर सकती है।

प्रकाश पंत का जन्म पिथौरागढ़ जनपद में वर्ष 1960 को 11 नवंबर में हुआ था जिसके बाद उनकी प्राम्भरिक पढ़ाई जनपद में शुरू हुई थी जहा से पढ़ाई के साथ साथ उनके द्वारा निशानेबाज़ी में भी कई पदक हासिल किये गए उसके बाद प्रकाश पंत फार्मा सिस्ट का कोर्स किये जाने के बाद सरकारी सेवा में चले गए लेकिन राजनीती की तरफ उनका झुकाव सरकारी सेवा को छोड़े जाने के बाद बड़ा और वो राजनीती की तरफ आकर्षित हो गए, राजनीति के शिखर पर जाने के साथ साथ उनके साथ कई ऐसी यादें और महत्वपूर्ण पहलू भी जुड़े हैं जो उनके जीवन में अपना एक अलग महत्व रखते हैं यही वजह है कि आज अपने जन्मदिवस को अलग तरीके से मनाते हुए प्रकाश पंत ने अपना मोबाइल ऐप लॉन्च किया है।

मोबाइल एप आने के बाद प्रकाश पंत ने आम जनता से भी अपील की है कि वह सरकार से जुड़ी हुई हर परेशानी को इस मोबाइल एप के माध्यम से उन तक पहुंचाने में पहल कर सकते हैं अब देखना होगा राजनीति के शिखर पर पहुंचने वाले प्रकाश पंत इस मोबाइल एप के माध्यम से आम जनता के बीच कितना सकारात्मक प्रयास जुटा पाते हैं यह देखने वाली बात होगी लेकिन निकाय चुनाव के बीच प्रकाश पंत की मोबाइल एप जनता की बीच आई है।

माना जा रहा है प्रकाश पंत इस मोबाइल एप के माध्यम से आम जनता से और अधिक तेज गति से जुड़ने का माध्यम बनेगे उत्तराखंड में मुख्यमंत्री रावत सरकार में वित्त मंत्री के रूप में प्रकाश पंत वर्तमान में मौजूद है लेकिन उनका राजनीतिक सफरनामा कई तरह की उथल-पुथल चीजों का भी वर्णन करता है यही वजह है राजनीति में उनके दूरगामी परिणाम को लेकर भी हमेशा से ही उनके समर्थक उनके साथ जुड़े रहे हैं उत्तराखंड में प्रकाश पंत एक ऐसे नेता के रूप में भी उभर रहे हैं उनका राजनीतिक जीवन पूरी तरह विरोधाभासी राजनीति से दूर रहा है लेकिन राजनीति के शिखर पर पहुंचने के लिए प्रकाश पंत को अभी कई बाधाओं को पार करना है।

उत्तराखंड में जब राज्य के मुख्यमंत्री को बनाये जाने की बातें चल रही थी उस समय प्रकाश पंत का नाम भी तेजी से सामने आया था लेकिन बाद में बीजेपी ने त्रिवेंद्र सिंह रावत का नाम आगे किये जाने के बाद उनको राज्य का मुख्यमंत्री बना दिया था उस समय उनके समर्थक इस बात से काफी निराश हुए थे लेकिन इसके बाद रावत सरकार में प्रकाश पंत को वित् मंत्री के साथ साथ कई बड़े विभाग दिए गए थे जिनका उनके द्वारा सफल संचालन किया जा रहा है हलाकि प्रकाश पंत बीजेपी के बड़े नेताओं के बीच अपनी मजबूत पकड़ कायम नहीं कर पाए जिसका कारण यही रहा उनका मुख्यमंत्री पद पर आ जाना रुकवाट का कारण बना लेकिन प्रकाश पंत उत्तराखंड में एक सफल मंत्री और राजनेता के रूप में अपनी अलग पहचान रखते है ज्ञान से लेकर राजनीती के शिखर पर उनका पंहुचा पाना इसी का परिचायक है उत्तराखंड में आज भी उनका अपना अलग ही मधुर भाषा का उपयोग अपनी तरफ आकर्षित किये जाने को आतुर करता है।


Share

Leave a Comment

error: Content is protected !!