प्रकाश पंत का राजनैतिक दीपकपुँज

Share

प्रकाश पंत का राजनैतिक दीपकपुँज देहरादून उत्तराखंड पंचायत चुनाव 2019 में पिथौरागढ़ विधानसभा में बीजेपी को मिली हार का असर यहाँ होने वाले उपचुनाव पर देखा जा सकता है कैबिनेट मंत्री प्रकाश पंत के निधन के बाद खाली हुई विधानसभा सीट पर नवम्बर महीने में उपचुनाव होना प्रस्तावित है लेकिन पंचायत चुनावो में बीजेपी को जिस तरह से हार का समाना करना पड़ा है ऐसे में उपचुनाव में बीजेपी को मतदाता के बीच में काफी पकड़ बनाये जाने की जरुरत देखी जा रही है।

उत्तराखंड पंचायत चुनाव 2019 में पिथौरागढ़ विधानसभा में बीजेपी को मिली हार को देखते हुए कांग्रेस भी अपनी संभावना को लेकर अपने प्रत्याशी पर राजनैतिक पकड़ को मजबूत किये जाने के लिए हर कोशिश करती नज़र आएगी उपचुनाव को लेकर कांग्रेस के पूर्व विधायक मयूख महर विधानसभा में अपना राजनैतिक समीकरण वोटरों के बीच फैला रहे है बीजेपी की तरफ से प्रकाश पंत के पारिवारिक वयक्ति को टिकट दिए जाना लगभग तय माना जा रहा है उनके भाई भूपेश पंत यहाँ पर उनकी राजनैतिक विरासत के दीपकपुँज बन सकते है वही गीता पंत भी विधानसभा में सक्रिय नज़र आ रही है ऐसे में अगर परिवार से टिकट मिला और प्रकाश पंत की पत्नी चुनाव नहीं लड़ती तो ऐसे में गीता पंत पर विचार किये जाने का फार्मूला अपनाया जा सकता है।

ये भी पढ़े: पंचायत चुनावो में देखे किसको मिली हार किसने जीता चुनाव

पिथौरागढ़ विधानसभा उपचुनाव को लेकर हालांकि अभी तक चुनावी कार्यक्रम तय नहीं हुआ है लेकिन दीपावली के बाद यहाँ पर चुनाव करवाए जाने को लेकर चुनाव आयोग अपना चुनावी कार्यक्रम तय कर सकता है नवंबर महीने तक यहाँ पर चुनाव करवाए जा सकते है क्योकि पहाड़ी जिला होने के कारन यहाँ पर ठंडा काफी अधिक होता है विधानसभा उपचुनाव को लेकर नवंबर तक 6 महीने के अंदर रिक्त सीट पर चुनाव करवाया जाना जरुरी होता है।
पिथौरागढ़ में कुल 27 सीटों में 12 पर भाजपा के समर्थित प्रत्याशी जीते। 15 में भाजपा को हार का मुंह देखना पड़ा। पिथौरागढ़ विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी के लिए यहाँ से जीत दर्ज़ किया जाना वर्तमान पंचायत चुनावो के परिणाम के बाद समीकरण में परिवर्तन किये जाने पर भी विचार किया जा सकता है
प्रकाश पंत की पत्नी को चुनाव लड़वाए जाने के लिए बीजेपी का पक्ष पूर्व में मजबूत था क्योकि उपचुनाव में वोटरों की सहनुभूति पंत परिवार के पक्ष में देखी जा सकती है लेकिन अभी तक प्रकाश पंत की पत्नी की तरफ से उपचुनाव लड़े जाने पर कोई बात सामने नहीं आई है लेकिन उनके भाई भूपेश पंत पिथौरागढ़ विधानसभा में लगातार सक्रिय नज़र आ रहे है ऐसे में उनका यहाँ से चुनाव लड़े जाने की तरफ इशारा मिल रहा है उत्तराखंड उपचुनाव में अभी तक उसी परिवार को जीत मिलती रही है जिसके कारण सीट रिक्त हुई हो अब देखा जाना होगा पिथौरागढ़ विधानसभा उपचुनाव को लेकर यहाँ की जनता किसको जीत दिला कर विधानसभा में भेजती है।

Share

Leave a Comment

error: Content is protected !!