Rahul Gandhi National Congress President

Bhadas for India is a leading news portal of India with 15 years of media house experience in Dehradun, Uttarakhand.

Share

राहुल गांधी बने राष्टीय अध्यक्ष उत्तराखंड कांग्रेस भवन में मनाई होली:Rahul Gandhi National Congress President 

Rahul Gandhi National Congress President

देहरादून राहुल गांधी के पार्टी का निर्विरोध राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्वाचित होने पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय, राजीव भवन देहरादून में भव्य समारोह का आयोजन किया गया जिसमें कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आतिशबाजी के साथ मिष्ठान वितरण किया तथा राहुल गांधी जिंदाबाद, कांग्रेस पार्टी जिंदाबाद के नारे लगाये तथा एक दूसरे को गुलाल लगाकर बधाई दी। समारोह में कांग्रेस के वरिष्ट नेतागणों एवं बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। समारोह का संचालन महानगर अध्यक्ष पृथ्वीराज चौहान ने किया।

समारोह में वक्तागणों ने राहुल गांधी के कांग्रेस पार्टी के 60वें निर्विरोध अध्यक्ष निर्वाचित होने पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि राहुल गांधी लम्बे समय से पार्टी संगठन में उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे थे तथा उन्होंने कांग्रेस पार्टी की गौरवशली परम्पराओं का निर्वहन करते हुए पार्टी संगठन की मजबूती के लिए पूरी मेहनत व लगन से कार्य करते हुए युवाओं के मध्य पार्टी की नीतियों को पहुंचाने का कार्य किया। आज राहुल गांधी के कांग्रेस का निर्विरोध राश्ट्रीय अध्यक्ष निर्वाचित होने पर देश का युवा वर्ग अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहा है। कांग्रेसजनो ने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस को एक नई पहचान मिलेगी तथा आने वाले चुनावों में पार्टी को इसका लाभ मिलेगा।

गांधी-नेहरू परिवार द्वारा देष की एकता व अखण्डता के लिए दिये गये बलिदान को याद करते हुए वक्ताओं ने कहा कि जिस प्रकार श्रीमती सोनिया गांधी जी पं0 जवाहर लाल नेहरू जी के लोकतांत्रिक समाजवादी आदर्षों एवं नीतियों पर चल कर कांग्रेस पार्टी का नेतृत्व करती रही राहुल गांधी जी भी उनकी नीतियों व आदर्षों को अपना कर उसी परम्परा का निर्वहन करते हुए कांग्रेस पार्टी को एक नई पहचान दिलाने का काम करेंगे। जिस प्रकार श्रीमती सोनिया जी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी ने नई ऊंचाइयों को छुआ है उसी प्रकार आने वाले समय में कांगे्स पार्टी राहुल गांधी के नेतृत्व में और मजबूत होगी तथा एकबार पुनः केन्द्र की सत्ता में भारी बहुमत के साथ सत्तारूढ़ होगी। कांग्रेसजनों ने सभी कार्यकर्ताओं से राहुल गांधी जी और कांग्रेस की नीतियों एवं दिषा निर्देषों को जन-जन तक पहुंचाने का आह्रवान किया।

वक्ताओं ने कहा कि राहुल गांधी जी 132 साल पुरानी पार्टी की बागडोर संभालने वाले 60वें राश्ट्रीय अध्यक्ष हैं। भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस की स्थापना 72 प्रतिनिधियों की उपस्थिति के साथ 28 दिसम्बर 1885 को बॉम्बे के गोकुलदास तेजपाल संस्कृत महाविद्यालय में हुई थी। इसके संस्थापक महासचिव (जनरल सेक्रेटरी) ए ओ ह्यूम थे जिन्होंने कलकत्ता के व्योमेश चन्द्र बनर्जी को प्रथम अध्यक्ष नियुक्त किया था। कांग्रेस पार्टी सदैव एक रचनात्मक संगठन के रूप में काम करती रही है। कांग्रेस संगठन ने महात्मा गांधी के मार्गनिर्देषन में रचनात्मक गतिविधियों पर विशेष ध्यान दिया जिससे नागरिकों को आने वाले कल के लिए तैयार किया जा सके और राष्ट्र में न केवल अधिकारों बल्कि कर्तव्य के प्रति सचेत रहने की भावना जागृत की जा सके। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस सिर्फ एक राजनीतिक दल ही नहीं, बल्कि एक आंदोलन है जिसने विभिन्न विचारों, ज्ञानवान व्यक्तियों तथा सभी धर्मों को अपने में समाहित किया। कांग्रेस ने विभिन्न मतान्तरों को भी अपने साथ लिया तथा विभिन्नता में एकता को स्थापित किया। 1885 से 1947 तक लगातार 62 वर्षों तक कांग्रेस ने स्वतंत्रता संघर्ष को संपूर्णता में निर्देशित तथा संचालित किया। स्वतंत्रता प्राप्ति के पष्चात भी कांग्रेस पार्टी का सामाजिक हितों की रक्षा का संघर्ष जारी रहा तथा कांग्रेस अपने लक्ष्य में सफल भी हुई। एक सार्वभौम लोकतांत्रित सरकार की स्थापना, धर्मनिरपेक्ष, समाजवाद जैसे उच्च विचार हमेशा कांग्रेस की नीतियों के केन्द्र में रहे।

श्रीमती सोनिया गांधी जी के नेतृत्व में 2003 में लोकसभा के चुनाव मे कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिषील गठबंधन को बहुमत मिला। कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए देष की जनता में भारी उत्साह था, लेकिन श्रीमती गांधी ने महान त्याग का रास्ता अपनाते हुए प्रधानमंत्री पद ठुकरा दिया तथा डाॅ मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री बनवाया। केन्द्र में कांग्रेस के नेतृत्व वाली संप्रग सरकार ने देष के संतुलित विकास के लिए आम आदमी के कल्याण की योजनाओं को प्राथमिकता दी तथा ग्रामीण अंचलो की खुषहाली के लिये बहुआयामी भारत निर्माण योजना के साथ ग्रामीण अंचलो में सुनिष्चित रोजगार के लिए राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गांरटी योजना कानून बनाकर लागू किया। इसी तरह ग्रामीण अंचलो में बिजली पहुंचाने के लिये राजीव गांधी विद्युतीकरण योजना, ग्रामीण स्वास्थ्य के लिए ग्रामीण स्वास्थ्य मिषन, सर्व षिक्षा अभियान, शालाओं में मध्यान्ह भोजन आदि योजनाएं शुरू की गई है। अपनी लोक कल्याणकारी नीतियों का पालन करते हुये संप्रग सरकार ने अपने कार्यकाल के 10 साल सफलतापूर्वक पूरे किये।

पिछले 122 वर्षो में कांग्रेस पार्टी को ऐसी विरासत मिली है जो दुनिया की और किसी पार्टी को नही मिली होगी। बडे बडे नेताओं ने जिनमें अपने समय के कई महापुरूष भी थे, इस पौधे को बढ़ाया और अब कांग्रेस परिपक्वता प्राप्त कर चुकी है। यह कई परीक्षाओं कठिनाईयों से गुजरी है और भारत के लोगो ने अच्छी तरह परख कर देख लिया है कि वे इसमें पूर्ण विष्वास रख सकते है। कांग्रेस का लक्ष्य एक ऐसे भारत का निर्माण करना है जो विषमताओं और शोषण से मुक्त हो और जिनमें सभी नागरिक खुषहाली दोस्ती और शांति के साथ समान रूप में रहे। राहुल गांधी जी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी अपने इस ऐतिहासिक लक्ष्य को भी पूरा करके रहेगी।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *