राज्यों में फिर से स्कूल-कॉलेज बंद

Share

राज्यों में फिर से स्कूल-कॉलेज बंद( School Close) देश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच राज्यों ने सक्रियता बढ़ाते हुए सख्त कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में संक्रमित लोगों की कुल संख्या 1 करोड़ 21 लाख 49 हजार 335 के पार पहुंच गई है। लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए, यूपी, एमपी, पंजाब, गुजरात समेत कई राज्यों ने स्कूल-कॉलेजों को फिर से बंद रखने का फैसला लिया है।

राज्यों में फिर से स्कूल-कॉलेज बंद

पंजाब में प्रदेश सरकार ने पहले से जारी पाबंदियां 10 अप्रैल तक बढ़ा दी हैं। वहीं, उत्तर प्रदेश सरकार ने भी कक्षा 8 तक के स्कूलों को 4 अप्रैल तक के लिए बंद रखने का आदेश दिया है। प्रदेश में अन्य शैक्षिक संस्थान कोविड-19 प्रोटोकॉल के सख्ती से पालन के साथ खोले जाएंगे। जबकि मध्य प्रदेश में पहली से लेकर आठवीं तक की ऑफलाइन कक्षाएं 15 अप्रैल तक बंद रखने का निर्णय लिया गया। आइए जानते हैं अन्य राज्यों की क्या स्थिति है।

अन्य राज्यों की क्या पाबंदियां है।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में कोरोना के मामलो को देखते हुए समीक्षा की है उत्तर प्रदेश में कई निजी स्कूल 5 अप्रैल से नए शैक्षणिक सत्र की कक्षाएं शुरू करने की तैयारी में हैं।

पंजाब सरकार ने बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए 10 अप्रैल तक स्कूल और कॉलेज बंद रखने का फैसला किया है। अभी जो पाबंदियां थीं वे 31 मार्च तक थीं, जिन्हें 10 दिन और आगे बढ़ाया गया है। मध्य प्रदेश में 8वीं तक की सभी कक्षाएं 15 अप्रैल तक बंद रहेंगे। कक्षा 9वीं से 12वीं तक की कक्षा 01 अप्रैल से शुरू होंगी। हालांकि, ऑफलाइन क्लास के लिए अभिभावकों की अनुमति जरूरी होगी।

कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए राज्य के आठ नगरपालिका क्षेत्रों में स्थित स्कूलों को 10 अप्रैल तक बंद रखने का फैसला लिया गया है। इनमें अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर, जूनागढ़, भावनगर और राज्य राजधानी गांधीनगर शामिल है। नया शैक्षणिक सत्र 1 अप्रैल से शुरू होने जा रहा है, लेकिन दिल्ली सरकार ने पहले ही साफ कर दिया है कि, कोरोनोवायरस संक्रमण की बढ़ती संख्या के बीच 8वीं तक के स्कूल नहीं खोले जाएंगे। नया सत्र ऑनलाइन शुरू किया जाएगा।

तमिलनाडु ने 22 मार्च से अगले आदेश तक कक्षा 9, 10 और 11 के लिए स्कूलों को बंद करने का भी आदेश दिया है। मेडिकल कॉलेजों को छोड़कर तेलंगाना में सभी शिक्षण संस्थानों (स्कूल, कॉलेज, हॉस्टल, गुरुकुल संस्थान) को कोविड -19 मामलों में तेजी से बढ़त मामलों के कारण बंद कर दिया गया है।


Share

Leave a Comment

error: Content is protected !!