सुपारी किलर बदमाशो का ये था खूनी खेल

सुपारी किलर बदमाशो का ये था खूनी खेल देहरादून शराब कारोबारी की हत्या की सुपारी लेने वाले दो बदमाशो को पुलिस ने वारदात को अंजाम देने से पहले पकड़ा कर एक बड़ी वारदात को होने से बचाया है मंगलौर के एक डॉक्टर और रायवाला के शराब कारोबारी की हत्या किये जाने को लेकर बदमाश सुपारी लेकर वारदात को अंजाम देने के लिए आ रहे थे। सुपारी किलर बदमाशो का ये था खूनी खेल जिसके बाद वारदात को अंजाम देकर वो बड़ी सनसनी मचाना चाहते थे
उत्तराखंड के रुड़की में मंगलौर पुलिस और सीआईयू की टीम को मंगलौर के एक डॉक्टर और रायवाला के शराब कारोबारी की हत्या करने पहुंचे दो शूटरों को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। हरिद्वार जेल में बंद बदमाश ने दोनों शूटरों को डॉक्टर और शराब कारोबारी की हत्या के लिए दो लाख रुपये की सुपारी दी थी। पुलिस ने शूटरों के पास से दो तमंचे, चार कारतूस समेत एक स्कूटी और दो मोबाइल बरामद किए हैं। पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया है।
बुधवार को सिविल लाइंस कोतवाली में एसएसपी जन्मेजय प्रभाकर खंडूड़ी ने प्रेसवार्ता कर बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि जेल में बंद मंगलौर निवासी कलीम ने मंगलौर के डॉक्टर अमजद और रायवाला निवासी शराब कारोबारी रमेश जोशी की हत्या के लिए दो शूटरों को दो लाख की रुपये की सुपारी दी है। मंगलवार रात सूचना मिली कि तांशीपुर गांव के पास गंगनहर पटरी से बैंगनी रंग की स्कूटी से दोनों शूटर रुड़की से मंगलौर आ रहे हैं। टीम ने तत्काल तांशीपुर तिराहे के पास घेराबंदी कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया।
एसएसपी ने बताया कि शूटरों की पहचान पुरुषोत्तम झा निवासी ग्राम दूरडोली, थाना बैनीपट्टी जिला मधुबनी और प्रदीप उर्फ भूरा निवासी ग्राम मंडावर, थाना भौराकलां जिला मुजफ्फरनगर, बिहार के रूप में हुई है। पुरुषोत्तम के पास से एक 315 बोर का तमंचा, दो कारतूस और प्रदीप के पास 12 बोर का तमंचा, दो कारतूस मिले हैं।
Share on Social Media

Leave a Comment