विधानसभा सत्र में प्रवेश करना है तो करवाना पड़ेगा कोरोना टेस्ट

विधानसभा सत्र में प्रवेश करना है तो करवाना पड़ेगा कोरोना टेस्ट: देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का तीन दिवसीय मानसून सत्र 23 से 25 सितम्बर का चलाया जायेगा मानसून सत्र की तैयारी को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम किये जाने में पुलिस महकमा जुट गया है।

कोरोना काल में आयोजित हो रहे उत्तराखंड विधानसभा के मानसून सत्र में कर्मियों से लेकर विधानसभा में सिमित सख्या सोशल डिस्टेन्सिग का पालन करेगी उत्तराखंड विधानसभा के मानसून सत्र में वही कर्मियों प्रवेश पा सकेंगे जिनकी जरुरत सत्र में रहेगी।

ये खबर भी पढ़े : देखिये ऐसे चलती है सैक्स की मंडी

उत्तराखंड विधानसभा के मानसून सत्र में प्रवेश पाने के लिए कोरोना सक्रमित टेस्ट किया जाना अनिवार्य कर दिया है उत्तराखंड विधानसभा के अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने भड़ास फॉर इंडिया को एक्सक्लूसिव जानकारी देते हुए बताया की कैसे मानसून सत्र को लेकर इस बार तैयारी की जा रही है।

उत्तराखंड विधानसभा सत्र में प्रवेश करना है तो करवाना पड़ेगा कोरोना टेस्ट

उत्तराखंड विधानसभा के मानसून सत्र में प्रवेश करने के लिए covid 19 टेस्ट किया जायेगा विधानसभा सत्र में प्रवेश करने से पहले कर्मियों का रैपिड टेस्ट अनिवार्य रूप से होगा रैपिड टेस्ट में कोरोना रिपोर्ट नेगिटिव आने के बाद ही कर्मियों को उत्तराखंड विधानसभा के मानसून सत्र में प्रवेश मिल पायेगा।

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने बताया की उत्तराखंड विधानसभा के मानसून सत्र को तीन दिनों के लिए चलाये जाने का कार्यकम फिलहाल रखा गया है नेता प्रतिपक्ष सहित कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में सत्र को कितने दिनों का चलाया जाना है इसको लेकर अंतिम फैसला किया जायेगा 20 सितम्बर को कार्यमंत्रणा समिति की बैठक प्रस्तावित है जिसमे सत्र को चलाये जाने के लिए अंतिम फैसला लिया जाना है।

उत्तराखंड विधानसभा सत्र में पहली बार अधिक उम्र वाले विधानसभा सदस्यों के लिए वर्चुवल माध्यम से सत्र में भाग लेने की सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है वर्चुवल माध्यम से ऐसे विधायक भी मानसून सत्र में हिस्सा ले सकेंगे जो विधानसभा सत्र में नहीं आना चाहते उनके लिए विधानसभा सत्र में वर्चुवल माध्यम से जोड़े जाने की तैयारी की जा चुकी है।

कोरोना काल को देखते हुए ये भी जरुरी होगा सिमित संख्या में विधानसभा सत्र को चलाये जाने के लिए उसी हिसाब से विधानसभा कर्मियों की ड्यूटी लगाई जाये विधानसभा सदस्यों को अपना 72 घंटे पहले किया हुआ कोविद टेस्ट करवाना अनिवार्य होगा ऐसे विधायक जो अपना कोरोना टेस्ट नहीं करवाएंगे उनको विधानसभा सत्र में प्रवेश नहीं मिल सकेगा।

Share on Social Media

Leave a Comment